top of page
  • Writer's pictureELA

जब हम छोटे थे तो ये भी एक खास काम हुआ करता था। दीवाली की रात के बिना जले पटाखे, मोमबत्ती और दिए इकट्


जब हम छोटे थे तो ये भी एक खास काम हुआ करता था।

दीवाली की रात के बिना जले पटाखे, मोमबत्ती और दिए इकट्ठा करना।

इन सब को इकट्ठा कर के सब को उनके अलग अलग अंजाम तक पहुंचाना।

पटाखों को एक जगह रख कर एक साथ जलाना, इनमें से बारूद निकाल कर एक जगह ढेर लगा कर जलाना।

सारे बिना जली मोमबत्तियों का मोम पिघला कर खाली दिए में डालकर मोम वाला दिया बनाना।

और रात के सारे दिए एकत्रित कर के रखना।

आप में से काफी लोग जरुर ये जरूरी कार्य जरुर करते होंगे।


When we were little, this too used to be a special job.

Collecting unlit crackers, candles and diyas on Diwali night.

Collecting all these and bringing them all to their different ends.

Putting firecrackers in one place and burning them together, taking out gunpowder from them and burning them in a heap.

Make a wax lamp by melting the wax of all the unlit candles and pouring it in an empty lamp.

And collect all the lamps of the night and keep it.

Many of you must have done this important work.

bottom of page