top of page
  • Writer's pictureELA

Pre-Wedding shoot

प्री वैडिंग शूट _

Pre-Wedding Shoot

शहनाइयों की मधुर धीमी आवाज रति के कानों में रस घोल रही है.. आज रमन के साथ उसका रिश्ता पक्का होने जा रहा है.. कितनी खुश है वो इसका अंदाजा कोई भी नहीं लगा सकता, रमन..आकर्षक कद काठी, स्मार्ट, सुंदर नाक नक्श जैसा वर,किसी भी लड़की को अपना मन का राजकुमार बनाने की चाह जाग जाएगी और सोने पर सुहागा..... उसकी विदेश की नौकरी... रति तो झूम गई, बचपन से विदेश में रहने की तमन्ना जिसके सपने अनगिनत बार देख चुकी है बहुत जल्द पूरी होने जा रही है!!

ढेर सारे मेहमानों के बीच उसकी और रमन की सगाई हो गई, हीरे की अंगूठी की चमक उसके चेहरे की चमक से फीकी पड़ रही थी, रमन शांत गम्भीर, रहते हुए सगाई की रस्में निभाता रहा!!

कार्यक्रम में रति का पड़ोसी और बाल्यकाल का अभिन्न मित्र सरल भी उपस्थित था, बचपन से रति उसके मन में घर बना चुकी थी.. पर उसके सपनों की उड़ान देखकर कभी अपने दिल की बात होंठों तक ला ही न पाया !!

सगाई के बाद शादी की तिथि ठीक एक माह के बाद की निकली.. रति और रमन की फोन पर बातचीत शुरु हो गई, एक दिन रमन ने उसे अपने साथ लॉन्ग ड्राइव पर चलने का आमंत्रण दिया जिसे माता पिता ने बिना सोचे तुरंत स्वीकृति का ठप्पा लगा दिया, रति खुशी से सज धजकर उसकी शानदार लंबी कार में सवार होकर निकल गई.. माता पिता गर्व से सबकी तरफ देखकर इतरा गए अपनी खूबसूरत बेटी के भाग्य पर!!

पूरी शाम दोनों घूमते रहे, रमन ने महंगे तोहफे उपहार में दिए जिन्हें देखकर रति आसमान में उड़ने लगी.... एक एक सपना उसे पूरा होता दिख रहा था, खुशी का ठिकाना न रहा उसका, रमन के अलावा उसे किसी भी चीज़ का होश ही न रहा!!

एक दिन रमन ने " प्री वैडिंग शूट" के लिए आमंत्रित किया, नशे में डूबी रति और रमन के आकर्षण में बंधे माता पिता ने तुरंत जाने की आज्ञा दे दी!!

शहर से बहुत दूर सूनसान एक रिजोर्ट... जहां दो फोटोग्राफर्स के अलावा सिर्फ स्टाफ.... दिन भर तरह तरह के पिक्चर्स लिए गए, विभिन्न आकषर्क आधुनिक पोशाकों में.. रमन का साथ, अकेलापन, बार बार उससे सटकर फोटो शूट करवाते रति मदहोशी के आलम में पूरी तरह डूब गई, परिवार का भय, समाज का डर, अपनी मर्यादा सब भूलकर वो गलती कर आई जो शायद किसी लड़की को कभी नहीं करना चाहिए!!

देर रात डिनर करके रमन उसे घर तक छोड़ गया.. दूसरे दिन से उसके फोन कम आने लगे, रति उसकी व्यस्तता समझ, इंतजार करती रही..... जब पूरे दिन की प्रतीक्षा के बाद भी रमन का फ़ोन बंद आया तब माता पिता को सारी हकीकत बताना पड़ी, माता पिता के होश उड़ गए, घबराकर रमन के घर पहुंचे... देखा रमन के माता पिता नाखुश से हैं.. पूछने पर फट पड़े.. " "आपकी बेटी संस्कार हीन है विवाह के पहले सम्बंध बना बैठी, आपकी बेटी का चरित्र इतना गिरा हुआ है कि वो मेरे भोले बेटे को उकसाकर उसके साथ विवाह के पहले ही वो हरकत कर बैठी जो एक सभ्य घर की लड़की कभी नहीं करती.... शुक्र है अंतरंग तस्वीरें फोटोग्राफर हमारे हाथ दे गया, रमन भी उससे कोई रिश्ता नहीं रखना चाहता, जो लड़की विवाह के पहले अपने को समर्पित करती फिरे उसके चरित्र का क्या भरोसा?" "आप जाइए, हम ये रिश्ता तोड़ते हैं.. हमारे घर ऐसी लड़की बहू बनकर कभी नहीं आ सकती.. कहते हुए मुंह फेर लिया!!"

रति के माता पिता अपनी गलती स्वीकार करते हुए पैरों पर गिर गए लेकिन रमन के माता पिता ने उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया!!

लुटे पिटे घर लौटे माता पिता को देख रति फूट फूटकर रो पड़ी, अंधेरा सा छा गया उसके सामने, कहीं की न रही वो, उसकी जरुरत से ज्यादा उत्तेजना और... हद से आगे बढ जाने की उत्कंठा ने उसका सर्वनाश कर दिया!!

रिश्तेदारों के फोन आने शुरु हो गए, शादी के कार्ड न पहुंचने की शिकायतें आने लगें, माता पिता मजबूर क्या कहें? उनकी दी आजादी और बेटी के कृत्य ने उन्हें मुंह दिखाने लायक रखा कहां?

ऐसे में देवदूत की तरह सरल अपने माता पिता के साथ पहुंचा उसे देख रति उसके गले लग जी भरकर रोई.. उसके माता पिता सरलता से बोले.. " रति.. हमें बचपन से बहुत प्रिय है, हमारी बेटी की तरह हमारे आंगन में खेली है, जानते हैं इसमें रति की नहीं उसके उम्र के हर युवा की गलती है जो आजकल आधुनिकता के रंग में अपनी सीमाएं संस्कार परिवार की इज्जत सब भूल अपनी मनमानी करते हैं.... अगर रति को सरल का रिश्ता स्वीकार्य हो तो मैं अपने बेटे के लिए आपकी रति का हाथ मांगता हूं, सरल बैंक मैनेजर है... इस लायक है अपनी पत्नी को खुश रख सके!!" उनके इतना कहते ही रति के माता पिता रोते हुए उम्मीद भरी नजरों से रति की ओर देखने लगे...... रति रोते रोते अपने माता पिता के चरणों में गिरकर माफ़ी मांगने लगी.. आज़ उसे अपनी सारी गलतियां समझ आ गई!!

उसी शुभ मुहूर्त में रति और सरल का पाणिग्रहण संस्कार हुआ!! एक लड़की का जीवन बरबाद होने से बच गया!!

आधुनिकता की दौड़ में संभलकर रहें ऐसा न हो मुंह के बल ऐसे गिरें कि संभलने का मौका ही न मिले, क्योंकि सभी को सरल जैसा इंसान नहीं मिलने वाला!!

प्रीति सक्सेना इंदौर कॉपी राइट सर्वाधिकार सुरक्षित



Pre-Wedding Shoot

3 views0 comments

Recent Posts

See All

"The greatest things in life require time, patience, and perseverance."

"The greatest things in life require time, patience, and perseverance." "जीवन में सबसे बड़ी चीज़ों के लिए समय, धैर्य और दृढ़ता की आवश्यकता होती है।"

bottom of page